खेल

ओलंपिक में चौथी बार भाग लेने वाली पहली महिला प्लेयर होंगी सानिया मिर्जा।

नई दिल्ली: भारतीय टेनिस स्टार सानिया मिर्जा का जलवा बरकरार है और चौथी बार ओलंपिक में भाग लेने वाली पहली महिला खिलाड़ी होगी।

पिछले एक दशक से भारतीय टेनिस में एक सवाल पूछा जा रहा है कि अगली सानिया मिर्जा कौन है? अगले सानिया मिर्जा की तलाश जारी है, जबकि 34 वर्षीय सानिया 23 जुलाई के बाद टोक्यो ओलंपिक में चौथी बार भाग लेने वाली पहली भारतीय महिला एथलीट होंगी।

सानिया ने ओलिंपिक डॉट कॉम से कहा, “मेरा करियर शानदार रहा है।” यह सिर्फ अपने आप पर और अपनी क्षमताओं पर विश्वास करने की बात है।

बता दें कि भारत में टेनिस सनसनी के नाम से जाने वाली जाने जाने वाली सानिया मिर्जा ने पाकिस्तान के मशहूर ऑल राउंडर क्रिकेट प्लेयर शोएब मलिक से शादी के लिए और इन दोनों का एक बच्चा भी है हालांकि सानिया मिर्जा शादी के बाद भी लगातार भारत की ओर से ही टेनिस खेलती आ रही है।

सानिया मिर्जा ने कहा कि मैं अभी 30 के दशक में हूँ और मैं इस बारे में बिलकुल भी नहीं सोचती कि मैं कब तक कब तक खेलूंगी। यह बस हर दिन की बात है। मैं इसे लेकर भविष्य के बारे में ज्यादा नहीं सोचती। ‘ अपने पहले बच्चे इज़न को 2018 में जन्म देने के बाद सानिया ने पिछले वर्ष जनवरी में विजयी वापसी की थी जब उन्होंने होबार्ट इंटरनेशनल डब्लूटीए टूर्नामेंट जीता था। उनके लिए आगामी गर्मियां काफी व्यस्त रहेंगी क्योंकि उन्हें विम्बलडन और ओलंपिक्स में हिस्सा लेना है।

सानिया ने 2016 में पिछले रियो ओलंपिक्स में मिश्रित युगल स्पर्धा में रोहन बोपन्ना के साथ चौथा स्थान हासिल किया था। सानिया ने कहा,’यह मेरे जीवन का सबसे निराशाजनक क्षण था कि मैं पदक के इतने पास आकर भी इसे जीत नहीं पायी।

उन्होंने कहा मुझे अब ओलंपिक्स में देश की तरफ से उतरने का इन्तजार है। मुझे भारत की तरफ से खेलना बहुत पसंद है। चाहे मैं जहाँ भी खेलूं लेकिन ओलंपिक्स में देश के लिए खेलना मेरे लिए क्या सभी एथलीटों के लिए बड़े गर्व की बात है। मुझे बताया गया है कि मैं जब ओलम्पिक में उतरूंगी तो मैं किसी महिला द्वारा किसी और के साथ टीम बनाकर सर्वाधिक ओलम्पिक खेलने वाली पहली महिला खिलाड़ी बन जाउंगी। मैं ओलम्पिक में उतरने के लिए आभारी हूं और मुझे अगले ओलम्पिक में उतरने का इन्तजार है। ‘

34 वर्षीय सानिया (Sania Mirza) 23 जुलाई से शुरू होने वाले टोक्यो 2020 में प्रतिस्पर्धा करने के साथ ही चार ओलंपिक में भारत का प्रतिनिधित्व करने वाली पहली महिला एथलीट बन जाएंगी।