राजनीति राज्य

तृणमूल कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और ममता बनर्जी सरकार में कैबिनेट मंत्री मौलाना सिद्दीक उल्लााह चौधरी पर 24परगना में हमला।

कोलकाता: पश्चिम बंगाल में राजनीतिक हिंसा की घटनाओं के बीच ममता बनर्जी सरकार की कैबिनेट मंत्री मौलाना सिद्दीक उल्ला चौधरी पर पश्चिम बंगाल के 24 परगना ज़िले में हमला किए जाने की घटना सामने आई है, जिसको लेकर पश्चिम बंगाल जमीअत उलमा यूनिट में रोष पाया जा रहा है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार शनिवार को तृणमूल कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और ममता बनर्जी सरकार में कैबिनेट मंत्री वह जमीअत उलमा हिंद के पश्चिम बंगाल के अध्यक्ष मौलाना सिद्दीक उल्लाह चौधरी पर किया गया यह हमला विपक्षी पार्टियों के कार्यकर्ताओं द्वारा नहीं बल्कि उनकी ही पार्टी तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने किया है।

मौलाना सिद्दीक उल्ला चौधरी पर किए गए हमले पर जमीअत उलमा पश्चिम बंगाल के कार्यकर्ताओं में कड़ा रोष देखने को मिल रहा है। बता दें कि मौलाना सिद्दीक उल्लाह चौधरी पर 24परगना में यह हमला उस समय किया गया जब वह जमीअत उलमा हिंद के कार्यकर्ताओं के साथ बाढ़ और तूफान से पीड़ित क्षेत्रों में रिलीफ वह राहत के कामों के लिए आयोजित प्रोग्राम में शिरकत करने के बाद दौरा कर रहे थे।

बताया जाता है कि इस दरमियान कुछ लोगों ने उन पर हमला कर दिया और रिलीफ का सामान भी लूट लिया। मौलाना सिद्दीक उल्ला चौधरी ने इस हमले के लिए तृणमूल कांग्रेस के पंचायत प्रधान शाहजहां और उसके साथियों को जिम्मेदार ठहराया है और कहा कि बड़े अफसोस की बात है कि मेरी ही पार्टी तृणमूल कांग्रेस ने के कार्यकर्ताओं ने मुझ पर निशाना साध कर हमला किया।

गौरतलब है कि पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव के बाद जो राजनीतिक हिंसा की घटनाएं शुरू हुई थी उसको लेकर ममता बनर्जी सरकार की काफी दबाव में है।