File Photo
राजनीति राज्य

तबीयत बिगड़ने पर आजम खान फिर अस्पताल में भर्ती, सत्ता में बड़ी हनक रखने वाले नेता की तस्वीरें देखकर कार्यकर्ताओं और चाहने वालों में मायूसी।

लखनऊ: समाजवादी पार्टी के कद्दावर नेता और रामपुर से सांसद आजम खान की तबीयत बिगड़ने पर सीतापुर जेल में उन्हें एंबुलेंस द्वारा लखनऊ शिफ्ट किया गया है, जहां उन्हें मैदांता अस्पताल में भर्ती कराया गया है। जेल में डॉक्टरों की एक टीम उसकी जांच करने पहुंची और कहा कि वह सीने में दर्द और सांस लेने में तकलीफ से पीड़ित है।

आजम खान पिछले साल फरवरी से सीतापुर जेल में बंद हैं। कोरोना की शिकायत के बाद तबीयत बिगड़ने पर नौ मई को उन्हें लखनऊ के मैदान में भर्ती कराया गया था। उन्हें किडनी की समस्या भी अधिक थी।

करीब ढाई महीने तक उनका मैदांता में इलाज चला.17 जुलाई को उन्हें वापस सीतापुर जेल भेज दिया गया। जब आजम खान को अस्पताल से जेल भेजा गया तो उनकी पत्नी तज़ीन फातिमा ने कहा कि आजम खान की हालत अभी भी गंभीर बनी हुई है। सरकार उनके साथ अच्छा नहीं कर रही है, लेकिन आज जब जेल में उनकी हालत बिगड़ी तो डॉक्टरों की एक टीम उनके स्वास्थ्य की जांच करने पहुंची और कहा कि उनकी हालत खराब है इसलिए उन्हें बेहतर इलाज के लिए लखनऊ रेफर कर दिया गया।

लखनऊ के मेदांता अस्पताल से आजम खान की ऐसी तस्वीरें सामने आई हैं जिन्हें देखकर उनके चाहने वालों और समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं में मायूसी छा गई है। बहुत सारे लोगों ने कई महीने के बाद आजम खान की शक्ल देखी है लेकिन उसे उनकी शक्ल देख कर खुशी नहीं बल्कि मायूसी हुई है क्योंकि आजम खान जैसा मजबूत आदमी पूरी तरीके से धराशाई होता नजर आ रहा है, वह बीमारी की चपेट और सरकार के निशाने पर आकर अपना हौसला और शरीर को टूटता देख रहे हैं। आप आजम खान के बयानों के खिलाफ हो सकते है लेकिन इस व्यक्ति के राजनीतिक जीवन के फैसलों में आपको समाजवाद की झलक हमेशा दिखेगा चाहे वो सफल कुंभ का आयोजन हो या जौहर विश्वविद्यालय की स्थापना। लेकिन आज ऐसा लगने लगा है कि कभी यूपी के मिनी सीएम कहे जाने वाले आजम खान के अपनों ने भी उनका साथ छोड़ दिया है।

गौरतलब है कि आजम खान के खिलाफ बीजेपी सरकार के सत्ता में आने के बाद से अब तक 100 से ज्यादा एफआईआर दर्ज हो चुकी हैं, जिनमें जमीन हथियाने, बिजली चोरी, किताब चोरी, भैंस चोरी और बकरी चोरी के मामले शामिल हैं. आजम खान के साथ उनकी पत्नी तजीन फातिमा और बेटा अब्दुल्ला आजम खान भी सीतापुर जेल में बंद हैं। उनकी पत्नी जमानत पर रिहा हो चुकी हैं, लेकिन उनका बेटा अभी भी सीतापुर जेल में है।