खेल दुनिया देश

पाकिस्तान के मशहूर तेज गेंदबाज शोएब अख्तर की पूरी दुनिया से भारत की मदद करने की भावुक अपील, सचिन तेंदुलकर की खामोशी पर उठे सवाल।

नई दिल्ली: देश में इस समय कोरोना की दूसरी लहर ने खतरनाक रूप ले लिया है जिसके कारण अस्पतालों से लेकर श्मशान घाट और कब्रिस्तान तक हालात खराब से खराब होते जा रहे हैं। यही वजह है कि दुनिया भर से भारत की मदद के लिए कई देश सामने आए हैं। पड़ोसी देश पाकिस्तान के सबसे बड़े चैरिटी फौंडेशन ईदी की पेशकश के बाद पाकिस्तान सरकार ने बयान जारी करके भारत के मौजूदा हालात पर चिंता जाहिर की और प्रधानमंत्री इमरान खान ने हर संभव मदद की बात कही है। इतना ही नहीं बल्कि चीन, सिंगापुर, सऊदी अरबिया, ईरान और अन्य कई देशों ने भारत की तरफ मदद का हाथ बढ़ाया है।

इसी बीच पाकिस्तान के पूर्व तेज गेंदबाज और रावलपिंडी एक्सप्रेस के नाम से जाने जाने वाले मशहूर क्रिकेट खिलाड़ी शोएब अख्तर ने पूरी दुनिया के लोगों से इस दुख की घड़ी में मानवता के आधार पर भारत के साथ खड़े होने की अपील की है। शोएब अख्तर ने अपनी भावुक अपील में दुनिया भर के मुसलमानों से भी रमजान के महीने में दुआ करने और भारत के लोगों की मदद करने का आह्वान किया हैै, हालांकि इस बीच देश के महान खिलााड़ी सचिन तेंदुलकर की खामोशी पर देश में ही सवाल भी खड़े होने लगे हैं।

अस्पताल, इलाज और ऑक्सीजन की कमी से जूझ रहे देश के लोग ऐसे में तमाम बड़ी हस्तियों से उम्मीद करते है कि अपने अपने स्तर पर अपील करके वो आम आदमी के साथ-साथ सरकारों तक जरूरी बात पहुंचा सकते हैं। ऐसी कोशिश कुछ लोग कर भी रहे हैं, देश ही नहीं विदेश की भी हस्तियां इसमें शामिल हैं।

इसी क्रम में पाकिस्तान के तेज गेंदबाज शोएब अख्तर ने बाकायदा एक वीडियो जारी करके भारत के मौजूदा हालात पर चिंता जाहिर की और सभी लोगों से अपील की कि भारत में विकराल रूप ले चुकी महामारी में अस्पताल और ऑक्सीजन जैसी कमियों को पूरा करने के लिए सभी लोगों को आगे आना चाहिए करीब 4 मिनट की वीडियो में शोएब अख्तर ने पाकिस्तान के अलावा भी दुनिया भर के देशों और सभी धर्म के लोगों से मानवता के आधार पर इस संकट की घड़ी में भारत की मदद करने का ऐलान किया है शोएब अख्तर ने दुनिया भर के मुसलमानों से भी अपील की है कि वह भी रमजान में दुआ करने के साथ-साथ मदद करने के लिए आगे आए और खासकर अपनी सरकार के पैसे से ऐसे लोगों की मदद करें जिन्हें इस समय आपकी मदद की बहुत जरूरत है।

वही इस पूरे मामले पर कई बड़ी हस्तियों की खामोशी पर भी सवाल खड़े हो रहे हैं। बोलता हिंदुस्तान की खबर के अनुसार, खैर ये तो पड़ोसी मुल्क की क्रिकेटर हैं जिन्हें लगता है कि आज के हालात पर भारत के लोगों के साथ खड़ा होना चाहिए मगर इसी मुल्क में ऐसे क्रिकेटर भी हैं जिन्हें आम आदमी ने इतना प्यार और सम्मान दिया कि उन्हें क्रिकेट का भगवान कहा जाने लगा।

मगर इस कथित भगवान ने अव्यवस्था के लिए सरकार से सवाल करना तो दूर मदद के लिए कोई अपील तक नहीं जारी की है। जी हां क्रिकेट के भगवान कहे जाने वाले सचिन तेंदुलकर की बात हो रही है।

वैसे सरकारों के प्रति उनकी चाटुकारिता जगजाहिर है मगर ऐसी आपातस्थिति में जब पूरा देश ऑक्सीजन के लिए तड़प रहा है तब उनकी चुप्पी पर ज्यादा सवाल उठाए जा रहे हैं।

इसी का उदाहरण है पूर्व पत्रकार और वर्तमान में राष्ट्रीय लोक दल के नेता प्रशांत कनौजिया का ये ट्वीट, जिसमें उन्होंने सचिन तेंदुलकर को जन्मदिन की बधाई तो दी है मगर कुछ सवालों के साथ।

उन्होंने लिखा- “क्रिकेट के भगवान सचिन तेंदुलकर का आज जन्मदिन है. उन्हें जन्मदिन मुबारक़. लेकिन जिस देश ने उन्हें भगवान बनाया क्या उस देशवासियों के प्रति आपदा की इस घड़ी में उनका कुछ फर्ज नहीं बनता? क्रिकेट के मैदान में आप शोयब अख़्तर से भले आगे होगे लेकिन मानवता की पिच पर अभी काफ़ी पीछे हो।”