देश

RSS प्रमुख मोहन भागवत का बयान- CAA से नहीं होगा देश के किसी मुसलमान को नुकसान।

नई दिल्ली: राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) के प्रमुख मोहन भागवत ने कहा कि देश के मुसलमानों को नागरिकता संशोधन कानून (CAA) से कोई नुकसान नहीं होगा क्योंकि भारत में अल्पसंख्यक हमेशा से सुरक्षित हैं। RSS प्रमुख मोहन भागवत ने बुधवार को असम की राजधानी गुवाहाटी में एक किताब के विमोचन के दौरान यह बात कही।

असम के दो दिन के दौरे पर गए भागवत ने कहा कि CAA किसी भारत के नागरिक के विरुद्ध बनाया हुआ कानून नहीं है। भारत के नागरिक मुसलमान को CAA से कुछ नुकसान नहीं पहुंचेगा। नागरिकता क़ानून से पड़ोसी देशों में दमन का शिकार अल्पसंख्यकों को सुरक्षा मिल सकेगी।

उन्होंने कहा कि भारत ने अल्पसंख्यकों का हमेशा ख़याल रखा है। उन्होंने कहा कि विभाजन के बाद एक आश्वासन दिया गया कि हम अपने देश के अल्पसंख्यकों की चिंता करेंगे। हम आजतक उसका पालन कर रहे हैं, पाकिस्तान ने नहीं किया।

मोहन भागवत ने साथ ही कहा कि सीएए और नागरिकता रजिस्टर एनआरसी का हिंदू-मुस्लिम से कोई लेना-देना नहीं है और इसे लेकर सांप्रदायिक कहानी कुछ लोगों ने राजनीतिक लाभ उठाने के लिए रची है। नागरिकता रजिस्टर की चर्चा करते हुए भागवत ने कहा कि हर देश को ये जानने का अधिकार है कि उसके अपने नागरिक कौन हैं।

उन्होंने कहा कि ये मामला राजनीतिक पाले में है क्योंकि इसमें सरकार संबद्ध है. कुछ लोग इससे राजनीतिक फ़ायदा उठाने के लिए इन दोनों मुद्दों को सांप्रदायिक रंग देना चाहते हैं।